Crime National New Delhi Slider

बड़ी खबर : हैवानियत के उन 90 मिनट को याद कर जब सिहर उठती है महिला ,पीड़िता के गिड़गिड़ाने पर महिलाएं निजी अंगो पर मारती थी लात ! हैवानियत के वो 90 मिनट। आखिर क्या ? Tap कर जाने

Spread the love

( ब्यूरो ,न्यूज़ 1 हिन्दुस्तान )
नई दिल्ली। दिल्ली के विवेक विहार के कस्तूरबा नगर में गणतंत्र दिवस के दिन हैवानियत का नंगा नाच जो 90 मिनट तक खेला गया। उसको देखकर सभी आंखे शर्मशार हो जाएँगी। जी हाँ ,दिल्ली के विवेक विहार के कस्तूरबा नगर में गणतंत्र दिवस के दिन महिला के साथ हुई हैवानियत के मामले में पीड़िता के शरीर पर लगे जख्म तो भर ही जाएंगे, लेकिन जिन जख्मों ने उसकी आत्मा को घायल किया है, वह शायद जिंदगी भर नहीं भर पाएंगे। घटना के चार दिन बाद भी पीड़िता हैवानियत के उन 90 मिनट को याद कर सिहर उठती है।

फिलहाल पुलिस की देखरेख में अज्ञात स्थान पर उसका इलाज चल रहा है।पत्नी के सिर पर करीब दर्जनभर से अधिक उस्तरे से कट के निशान थे। जालिमों ने बाल काटने के चक्कर में उसके सिर पर कई जगह उस्तरा मारा हुआ था। उसकी दोनों आंखें भी सूजी हुई थी। शरीर का शायद ही कोई ऐसा हिस्सा होगा, जिस जगह चोट के निशान न हो। पहले दिन तो पत्नी बोल भी नहीं पा रही थी। अब उसकी हालत में सुधार होना शुरू हुआ है। डॉक्टरों का कहना है कि दो सप्ताह में उसके जख्म भर जाएंगे। लेकिन उसे जो मानसिक आघात लगा है, उसको ठीक होने में लंबा समय लगेगा।

पीड़िता के पति ने बताया कि आरोपियों के डर से उसने करीब डेढ़ माह पूर्व कड़कड़डूमा में तीसरी मंजिल का मकान साढ़े चार हजार रुपये महीना किराए पर लिया था। घटना वाले दिन वह पत्नी व अपने तीन साल के बेटे को घर छोड़कर गुरुग्राम काम पर चला गया। इस बीच दोपहर करीब 12.00 बजे उसके मकान मालिक ने कॉल कर बताया कि उसकी पत्नी को कुछ महिलाएं व पुरुष जबरन उठाकर ऑटो में डालकर अपने साथ ले गए हैं।

फौरन उसने अपनी 18 वर्षीय साली को कॉल किया, लेकिन उसका फोन नहीं उठा। वह फौरन गुरुग्राम से भागा और कस्तूरबा नगर करीब 1.20 बजे पहुंचा। वहां पहुंचने पर उसे पत्नी के साथ हुई दरिंदगी का पता चला। फौरन उसने पीसीआर कॉल कर पुलिस को खबर दी। सूचना मिलते ही पुलिस भी कुछ देर में वहां पहुंच गई। तब तक उसकी पत्नी आरोपियों के ही चंगुल में थी। पुलिस ने उसे आरोपियों से छुड़ाया। इसके बाद उसे इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। पति ने बताया कि जब वह अस्पताल पहुंचा तो उसने देखा कि पत्नी दर्द से कराह रही थी। उससे बोला भी नहीं जा रहा था।

अगले दिन जब वह पीड़िता से मिला तो पीड़िता ने रोते हुए सारी बात बताई। पीड़िता ने बताया कि जब उसके साथ हैवानियत हो रही थी तो वह रोते हुए अपने पति को बुलाने की बात कर रही थी। लेकिन कोई उसकी नहीं सुन रहा था। जब भी वह आरोपियों से पति व परिजनों को बुलाने के लिए कहती थी, उसको बेल्ट या डंडा मारा जाता था। महिलाएं अपने लड़कों को उकसाकर उसके साथ घिनौनी हरकतें करवा रही थीं। पीड़िता ने गिड़गिड़ाते हुए आरोपियों से बेटे की मौत से कोई संबंध न होने की बात की, लेकिन किसी का दिल नहीं पसीजा।

आरोपी महिलाएं आत्महत्या करने वाले 16 वर्षीय लड़के की फोटो दिखाकर पीड़िता के निजी अंगों पर लात मार रही थीं। पीड़िता ने अपने पति को बताया कि उसे लगा कि शायद अब वह जिंदा नहीं बचेगी। वह उसे मार देंगे। महिला के पति ने बताया कि शुरुआती दो दिन उसकी पत्नी ने ठीक से खाना भी नहीं खाया। अब थोड़ा-थोड़ा उसने खाना शुरू किया है। परिवार ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की है। महिला का पति खुद अभी अपने किसी दोस्त के यहां आरोपियों से छिपकर रह रहा है।

पढ़े Hindi News ऑनलाइन और देखें News 1 Hindustan TV  (Youtube पर ). जानिए देश – विदेश ,अपने राज्य ,बॉलीबुड ,खेल जगत ,बिजनेस से जुडी खबरे News 1 Hindustan . com पर। आप हमें Facebook ,Twitter ,Instagram पर आप फॉलो कर सकते है। 
सुरक्षित रहें , स्वस्थ रहें
Stay Safe , Stay Healthy
मास्क के साथ-साथ , हाथो को धुले जरूर।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *