Dehradun Politics Slider Uttarakhand Vikash Nagar

रोजगार आंकड़ों में कोरोना जांच के आंकड़े तो शामिल नहीं कर दिए उत्तराखंड सरकार ने। टैब कर जाने 

Spread the love

#सात लाख लोगों को रोजगार देने का दावा सिर्फ हवा हवाई |  #बंशीधर भगत व मदन कौशिक भी अब जनता को लगे बरगलाने |         #8-10 महीने पहले सरकार कर रही थी तीन लाख लोगों को रोजगार देने का दावा |         #त्रिवेंद्र सरकार के कार्यकाल में आयोगों को भेजा गया 8046 पदों का अधियाचन  |       #वृहद उद्योगों के माध्यम से मात्र 1934 युवाओं को ही मिला रोजगार |           #सरकार रोजगार मामले में श्वेत पत्र करे जारी |               

( ब्यूरो ,न्यूज़ 1 हिन्दुस्तान )

देहरादून। जन संघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि सरकार द्वारा सात लाख लोगों को रोजगार देने का मामला पूरी तरह से हवा हवाई है; ऐसा प्रतीत होता है कि सरकार द्वारा कोरोना जांच के आंकड़े व मास्क चालान के आंकड़े भी रोजगार आंकड़ों में शामिल कर लिए गए हैं ! बड़े दुर्भाग्य की बात है कि श्री बंशीधर भगत व श्री मदन कौशिक मीडिया के माध्यम से प्रदेश के युवाओं/ जनता को धोखा देने का काम कर रहे हैं |    

               नेगी ने कहा कि हकीकत तो यह है कि उत्तराखंड लोक सेवा आयोग एवं उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को सरकार द्वारा इन 3-4 वर्षों में मात्र 8046 पदों पर ही अधियाचन भेजा गया है, जिस पर चयन प्रक्रिया पूर्ण होने के उपरांत मात्र दो- चार हजार लोगों को ही रोजगार मिल पाया | त्रिवेंद्र सरकार पूर्ववर्ती सरकार द्वारा  भेजे गए  अधियाचन को भी अपने रोजगार आंकड़े में  शामिल कर रही है | उपनल, पीआरडी एवं होमगार्ड इत्यादि की बात की जाए तो अस्थाई तौर पर सरकार द्वारा  मात्र 10-15  हजार युवाओं को ही रोजगार  उपलब्ध करा पाई  |

अगर औधोगिक इकाइयों की जाए तो वृहद उद्योगों में वर्ष 2017 -18 व 2018-2019 में मात्र 1934 युवाओं को ही रोजगार मिल पाया | सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योगों के माध्यम से सरकार कई हजार युवाओं को रोजगार देने की बात कर रही है, जबकि हकीकत यह है कि अपने संसाधनों से छोटे-मोटे उद्योगों से मिलने वाले रोजगार को भी सरकार अपनी उपलब्धि मान रही है | 2019- 20 व 2020-21 में सरकार कोई रोजगार नहीं दे पाई; यह बात अलग है की भविष्य में 53159 युवाओं को रोजगार दिए जाने की बात प्रस्तावित है, लेकिन यह कब दिया जाएगा इसको सिर्फ ऊपर वाला ही जानता है | सरकार द्वारा 8-10  माह पूर्व तीन लाख लोगों को रोजगार देने का दावा किया गया था जोकि अब बढ़कर सात लाख हो गया है | सरकार झूठ पर झूठ बोले जा रही है लेकिन प्रदेश का युवा गहरी नींद में सोया हुआ है |    मोर्चा सरकार से युवाओं के रोजगार मामले में श्वेत पत्र जारी करने की मांग करता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *