B.H.E.L,Haridwar Haridwar Slider Uttarakhand

बीएचईएल हरिद्वार ने “मेक इन इंडिया” मिशन की दिशा में महत्वपूर्ण कदम, स्थापित किया नया कीर्तिमान। आखिर कैसे ? टैब कर जाने 

Spread the love

( ब्यूरो ,न्यूज़ 1 हिन्दुस्तान )
हरिद्वार। 
बीएचईएल हरिद्वार की सीएफएफपी इकाई ने अब तक के सबसे भारी और लम्बे रोटर फोर्जिंग का निर्माण एवं आपूर्ति कर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है । बीएचईएल हरिद्वार के कार्यपालक निदेशक संजय गुलाटी ने हरी झंडी दिखाकर इसे रवाना किया । इस रोटर फोर्जिंग का निर्माण एवं आपूर्ति राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड, विशाखापट्टनम से प्राप्त प्रतिष्ठित आर्डर के संदर्भ में बीएचईएल हैदराबाद को की गई है ।


रोटर फोर्जिंग के सफलतापूर्वक निर्माण पर कर्मचारियों को बधाई देते हुए संजय गुलाटी ने कहा कि सभी के सम्मिलित प्रयासों और कठिन परिश्रम से ही हम इस उपलब्धि को प्राप्त कर सके हैं । उन्होंने कहा इतने बड़े रोटर के निर्माण हेतु उच्च तकनीकी दक्षता तथा कौशल जरूरी होता है और इस रोटर का सफलतापूर्वक निर्माण कर बीएचईएल ने इसे साबित कर दिया है । उल्लेखनीय है कि सीएफएफपी की फोर्ज शॉप में निर्मित 29 मीट्रिक टन वजनी और 7.9 मीटर लम्बा यह रोटर “मेक इन इंडिया” मिशन की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है ।
इस अवसर पर महाप्रबंधक (सीएफएफपी) वी. के. रायजादा, महाप्रबंधक (मानव संसाधन) आर. आर. शर्मा सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी, कर्मचारी आदि उपस्थित थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *