Dehradun Haridwar Kavad yatra Police Department Slider Uttarakhand

हरिद्वार से 3500 से ज्यादा कावड़ियों को लौटाया गया ,उत्तराखण्ड आ रहे पर्यटकों को भी चेतावनी। आखिर क्या ? Tap कर जाने

Spread the love

( ब्यूरो ,न्यूज़ 1 हिन्दुस्तान )

देहरादून / हरिद्वार। कोरोना के कारन इस वर्ष भी कावड़ यात्रा रद्द किया जाने के वावजूद भी कावड़ियों के आने का क्रम नहीं रुक रहा है। जोकि हरिद्वार प्रशासन के चुनौती बना हुआ है। आपको बता दे कि यदि कावड़ यात्रा रद्द नहीं हुई होती तो 25 जुलाई से कावड़ यात्रा शुरू हो गई होती। 

पुलिस उप महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, उत्तराखण्ड नीलेश आनंद भरणे  के हवाले से खबरों में कहा गया कि  कांवड़ मेला प्रतिबंधित होने के बावजूद सड़क एवं ट्रेन से हरिद्वार पहुंचे कांवड़ यात्रियों को जनपद सीमा, शटल बस और ट्रेनों में बैठाकर वापस भेजा जा रहा है। उन्होंने कहा कि 27 जुलाई तक हरिद्वार पुलिस ने नारसन, भगवानपुर और खानुपुर बॉर्डर से लगभग 1174 दुपहिया वाहन, 3473 छोटे वाहन और 136 बड़े वाहनों सहित कुल 3635 कांवड़ियों को वापस उनके गन्तव्यों को वापस भेजा गया है। इसके साथ ही ट्रेनों से आए कुल 316 कांवड़ यात्रियों को शटल बस व ट्रेनों के माध्यम से उनके गन्तव्यों को वापस भेजा गया है।

वही दूसरी तरफ, उत्तराखंड में लगातार बारिश के चलते मौसम खराब होने के हवाले से पर्यटन विभाग ने पर्यटकों को चेतावनी भी जारी की है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *