Aligarh Politics Slider States Uttar Pardesh

बड़ी खबर : उत्तराखण्ड के पूर्व गवर्नर का बड़ा बयान, रावण राज को खत्म करने के लिए 2022 मे सभी राजनीतिक पार्टियों को एक साथ मिलकर लड़ना चाहिए चुनाव। आखिर क्यों ? Tap कर जाने

Spread the love

( खालिक अंसारी )
अलीगढ़। अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय में प्रेस वार्ता के दौरान रियासत उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और मिजोरम के साबिक गवर्नर अजीज कुरैशी ने  कहा ए आई एम आई एम, बीजेपी की बी टीम है, वह सेकुलर पार्टी नहीं, ओवैसी हर वो काम करते हैं जिससे बीजेपी को फायदा होता है।
 दरअसल पूरा मामला जिला अलीगढ़ के अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय का है जहां पर एक प्रेसवार्ता के दौरान पूर्व गवर्नर ने एक बड़ा बयान दे डाला उनके द्वारा कहा गया 2022 के उत्तर प्रदेश इलेक्शन में मुस्लिम वोट हासिल करने के लिए सभी सियासी जमात में लग गई है। जहां एक तरफ ए आई एम आई एम को इलज़ामात लगते रहते हैं कि वह बीजेपी की बी टीम है वही वहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी का बयान भी सामने आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि ए आई एम आई एम समाजवादी पार्टी की बी टीम है।
राजनीतिक पार्टियों के बयानों से ऐसा लगता है कि 2022 के इलेक्शन में सबसे ज्यादा खतरा पार्टियों को ओवैसी की पार्टी से है। उनको लगता है कि इस बार मुस्लिम वोट ओवैसी के पास चला जाएगा। शायद इसीलिए ही यह एक दूसरे की बी टीम बताते हैं ओवैसी की पार्टी को गवर्नर अजीज कुरैशी ने एएमयू के ओल्ड बॉयज में एक प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा, मेरा यहां आने का मकसद आजकल जो राज है राक्षसों का जिस में जम्हूरियत का कत्ल किया जा रहा है, इस को बचाने के लिए 2022 के इलेक्शन में बीजेपी को हराने के लिए सभी सेकुलर पार्टी को एक साथ मिलकर लड़ना चाहिए। मैं चाहता हूं और कोशिश भी कर रहा हूं तमाम सेकुलर पार्टी एक प्लेटफार्म पर आ कर एक साथ रावण राज का खात्मा करे।


कृषि कानून को वापस लेने के ऐलान के बाद  CAA को भी वापस लेने के सवाल का जवाब देते हुए अजीज कुरैशी ने कहा, हुकूमत को CAA को भी वापस लेना चाहिए क्योंकि यह संविधान के खिलाफ है। इसमें लोकतंत्र का कत्ल किया गया है इसमें
सीएए में मुसलमानों को अलग रखा गया है जिससे लोकतंत्र का कत्ल हुआ है इसलिए सरकार को इस को भी वापस लेना चाहिए।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *